Success story of paytm

By | January 28, 2016
(Last Updated On: February 7, 2016)

एक idea आप की जिंदिगी बदल सकती है , इसी एक innovative idea के कारण paytm की शुरुवात हुई .
Paytm के FOUNDER यानि संस्थापक विजयशेखर शर्मा, है. सबसे कम उम्र में दिल्ली इंजीनियरिंग कॉलेज से UG डिग्री पाने वाले विजयशेखर शर्मा ,ने कभी परिवार के मर्जी के खिलाफ नौकरी छोड़ कर कंपनी की शुरु की थी . आज उसकी MARKET VALUE करोडो मे है . PAYTM मतलब PAYMENT THROUGH मोबाइल यानि मोबाइल के ज़रिए पैसे भरना . इससे काफी हद तक छुट्टे की परेशानी सुलाजते नजर आ रही है .

विजयशेखर के अनुसार उतनी सिक्षा ही जरूरी है की हम अपनी रोजमर्रा की समस्यों को हल खोज सके .
paytm बनाने वाले विजयशेखर UP मे पले बढ़े . विजय शेखर कहेते है अगर आपको अपना innovative idea को kill करना है तो जॉब करिये अगर आपको अपने innovative idea से पैसे कमाना है तो entreprenur बने .

paytm देल्ली के सटे नोएडा मे स्तीथ है . नोएडा मे एक खास बिल्डिंग जिसके एक तरफ वन97 लिखा है .अब ये ही वन97 बिल्डिंग paytm के नाम से कारोबार मे है .

paytm की पहचान cricket ने दी .तमाम जाने मने ब्रांड को पछाड़ते हुए paytm popular हुआ .paytm इस साल national और international cricket मैच में title स्पोंसेर्शिप अपने नाम किया . विजय ने इस offer के लिए 200 cr. से ज्यादा चुकाने का फैसला केवल 10 seconds मे ले लिया था . इसके बाद हुआ विज्ञापन से प्रचार . एस प्रचार से brand को मजबूती दी और youngster के बिच famous हो गई .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *